माँ को एक्साईट कर के चोदा


दोस्तो सबसे पहले मैं आपको बताता हूं इस कहानी में नाम बदले हुए हे. भाईतो आइये मैं आपको अपनी मॉम के बारे में बताता हूं वह बहुत ही खूबसूरत है. और मॉम का फिगर भी बहुत ही मस्त है, जब वह घर से मार्केट जाती है तो गली के सारे मर्द देखते हैं.

उसमें वह एकदम लाइट वाली ड्रेस पहनती है तब तो उसकी गांड और भी पीछे के साइड  निकली हुई दिखती है और चुचे तो बाहर आने का होते रहते हैं, एक बार की बात है हम सभी  को आगरा जाना था.

लेकिन पापा को ऑफिस के काम से मुंबई जाना था तो पापा को मैं सुबह में ही एयरपोर्ट पर छोड़ आया और उसके बाद घर पर ही था, पैकिंग वगैरा चल रहा था. तभी मैंने देखा कि माँ परेशान होकर कुछ ढूंढ रही है.

मैंने पूछा माँ क्या हुआ? क्या ढूंढ रहे हो? तो उन्होंने कहा कुछ नहीं बेटा लेकिन वह परेशान थी. मैंने बोला की शाम को ट्रेन है कुछ देर में निकलना होगा, तो सभी सामान पैक हो गया ना?

तो माँ ने कहा कि बेटा में सभी समान पेक कर ही रही हूं लेकिन कुछ सामान भी मार्केट से लाना है, सो चल वहां से हो आते हैं, फिर मैंने बोला मोम जो सामान लाना है बता दो मैं ले आता हूं, आप पैकिंग कर लो कुछ छूट न जाए.

तो वह कुछ हिचकाते हुए बोली की विस्पर का पैकेट लेकर आजा, मुझे घर में मिल नहीं रहा है. मैं थोड़ा सा अनजान बनते हुए कहा कि कहां से मिलेगा? और कैसा होगा. तो वह थोड़ा सा अजीब सा मुझे देखने लगी फिर बोली मेडिकल स्टोर पर बोलना तो वह दे देगा. मैं स्कूटी की चाबी लिया और निकल गया मार्केट जाते मैं सोच रहा था कि मम्मी की पीरियड आई हुई है वह ट्रेन में कैसे कंफर्टेबल होगी?

तभी मुझे कुछ आईडिया आया कि पीरियड में लेडीज और ज्यादा सेक्स ढूंढती है क्यों ना मैं फायदा उठा लू इस मौके का? पापा भी नहीं हे, सो मैंने यह सोच के मेडिकल शॉप से विस्पर पैकेट मांगा तो उस ने पूछ लिया कौन सा साइज मुझे मालूम नहीं था तो मैंने बाहर आकर मॉम को कॉल लगाया और पूछा कि मोम साइज़ कौन सा लेना है?

तो वह बोली कि मीडियम ले लो. मैंने शॉप वाले से पूछा सबसे स्माल साइज के दे दो, उसने दे दिया और साथ में मैंने एक पैकेट कंडोम का भी ले लिया वहां से घर आते आते शाम हो गई.

मैंने बोला कि मैं अब निकलना है हमें. तो वह भी पैक कर ही चुकी थी, विस्पर वाला पैकेट लेकर अंदर चली गई, मैं समझ गया चूत से खून आ रहा होगा लगाने गयी है. जबी वह आइ तो कुछ सोच रही थी और मेने देखा की वह बार बार अपनी लेगी पर देख रही हे. मैंने पूछा क्या हुआ मोम?

मोम ने कहा कि बेटा यह तूने स्माल ले आया है, तो मैंने बोल दिया मोम मेने मीडियम ही मांगा था, तो उन्होंने कहा कि छोड़ बस साइड से लिक ना हो जाए, मैंने बोला कैसे लिक होगा मां दिखाओ जरा? तो वह मुझे गुस्से से बोली छोड़ चल निकलना है..

हम सब निकले, मैंने केब बुक कर के मंगवाया रेलवे स्टेशन के लिए निकल गए. जब हम पहुंचे रेलवे स्टेशन पर तो वहां ब्रिज क्रॉस करके हमें प्लेटफार्म पर जाना था, सब कुछ करके हम अपने ट्रेन में जाकर सीट ले लिए और सामान सेट कर दिया और बैठ गए मॉम खड़ी थी.

मैंने बोला बैठ जाओ, तो उन्होंने मुझे इशारा किया नीचे के साइड.. मैंने देखा निचे लेगी के साइड में हल्का सा लाल हो गया था, वह शरमा रही थी दुपट्टा नीचे करके कुछ निकालने लगी, उन्होंने एक लेगी निकाला और एक पेड और बाथरूम की और चली गई.

वहां से फ्रेश होकर आई और मुझे गुस्से से घुरने लगी.

अब तक हम थोड़े से पीरियड को लेकर कोमन हो चुके थे, उन्होंने कहा कि मुझे सोना है मुझे पेन हो रहा है. तो मैंने कहा ठीक है आप सो जाओ, मोम सो गई कुछ देर के बाद मेंने देखा मोम को पीरियड वाला पेन तो नहीं? वह सो नहीं पा रही थी, दोनों पैरों को सही से रख भी नहीं पा रही थी.

तो मैंने कहा कि मैं कोई हेल्प करूं मा? तो वह बोली कि हां थोड़ा सा पैर को दबा दे और मैं अपनी सीट से उनकी सीट पर जाकर उनके पैर को दबाने लगा. केबिन में कोई नहीं था, फिर भी मैंने माँ को कंबल ओढा दिया, उसके बाद मैं पैर दबाते दबाते उनके जांघ तक पहुंचा, वह थोड़ी बहुत गर्मी में थी, कभी दोनों पैर को आपस में रगड़ रही थी.

मैं पैर दबा ही रहा था कि मुझे कुछ गीला फील हुआ, लेकिन माँ कुछ नहीं बोली. मैं थोड़ा सा मजे लेने के लिए वहां टच करने लगा दोनों पैर के बीच में गिला काफी हो गया था, तभी मोम ने दोनों पैर को जोर से दबाया और उसी में मेरा हाथ उनके दोनों पैर के बीच में कस के टच हो गया और मुझे लगा कीपैड के साइड से लिक हो रहा है.

मैंने तभी बोला कि मोम आपकी लेगी गीली हो गई है. तो वह बोली मुझे भी लगा. मैंने कहा मॉम इस तरह से सभी लेगी खराब हो जाएगी, आप नाइटी पहन लो. तो वह पहले सोची फिर बेग से नाईटी निकाल कर चली गई, मोम जब पहनकर आई तो लेगी नहीं डाली थी नीचे और सोने लगी, तब तक खाना भी आ गया था.

तो मोम बोली कि मेरा मन नहीं है खाने का, तो मैंने खाना खाया और अपना बेड भी लगा दिया और पूछा कि मोम अब तो लेग पेन नहीं हो रहा है ना? तो वह बोली कि हां थोडा सा. मैं उनके लेग दबा रहा था उनको पीठ के साइड बोला सो जाने को.

में उनके लेग के पास बैठकर उनसे पूछा कि मा इसमें ज्यादा पेन होता है क्या? तो वह बोली कि हां और में लेग को टच भी कर रहा था दबाने के साथ सहला भी रहा था, बीच बीच में फिर मैंने थोड़ा ऊपर तक टच किया.

जब जांघ को टच किया मोम सिहर गई और मुझे देखने लगी, तो मैंने अनजान बनते हुए और ऊपर तक पैर दबाने लगा, और मेरा हाथ उनकी पेंटी से टच हो गया  जोकि बिल्कुल गीली थी और अंदर में पेड़ भी नहीं था.

मैंने मोम को देखा तो आंखें बंद कर ली थी, मैंने पैर दबाने के बहाने उनकी पेंटि को टच करता रहा बार-बार.. फिर मां बोली थी चल तू सो जा मुझे वाशरुम जाना है, और वह चली गई मैं मन मार कर सो गया.

अगली सुबह जब हम जागे तो पापा बोले की शादी पर अभी नहीं जाना है. वही स्टे कर लो कहीं होटल में, तब तक मैं भी आ जाऊंगा.. फिर वहा से साथ चलेंगे, वहां एक होटल में रूम ले लिए जाते ही मोम बाथरूम में गई और मैं सो कर रिलैक्स करने लगा.

तब मोम आई और बोली कि जाकर मार्केट से मीडियम पेड लेकर आने को.. मैंने कहा कि इसी से काम चला लो  तो वह बोली साइड से कितनी लीक हो रही थी देखा? और यह २ दिन और रहेगा.. तो मैं बोला ठीक है शाम को ले आऊंगा..

तो मोम बोली ठीक है, हमने एक ही रूम लिया था तो वह भी रिलैक्स होने लगी, मोम  कुछ देर में सो गई और थोड़ा थोड़ा ब्लड आ रहा था. तो मैं सोचने लगा की कहीं होटल के बेड पर ना धब्बा ना लग जाए. तो मैंने सोचा मोम को उठाकर नीचे टावेल डाल देता हूं.

मैंने  मॉम को हिप्स के सहारे उठाया और टॉवेल रखने को करा तो मालूम हुआ मां अंदर में ना ही ब्रा डाली है ना ही पेंटि.. मैं हल्का सा तच भी हो रहा था, तो वह मोन करने लगी. मैं उनको और थोड़ा सा टच करने लगा, वह मेरे हाथों को दबाने लगी.

और मैं उनके बगल में लेट गया और धीरे से कहा कि आपकी लोवर क्लीन कर दूं हल्का सा ब्लड दिख रहा है. उन्होंने कहा हां.. मोम को पता था मैं क्या कह रहा हूं, फिर मैं नीचे गया उनका सूट उठाया और उनकी कमर तक ऊपर किया, और प्यार से उनकी दोनों टांगों को अलग किया और टॉवेल से उसे क्लीन किया और उस को सहलाने लगा.

वह मना नहीं कर पाई और पीरियड के होते हुए भी तडपने लगी. फिर अचानक से मुझे बोली अब नहीं रहा जाता, मुझे चोद दे बेटा.. मैंने एक उंगली उन की चूत में डाल के अंदर बाहर करने लगा. पीरियड की वजह से चूत इतनी गरम होती है अगर आपको नहीं पता मैं आपको बता रहा हूं, पीरियड में उंगली डाल कर देखना किसी की चूत में और उस टाइम वह रह ना पाई और ब्लड लगा हुई उंगली मेरी बहार आई.

लेकिन मेने बैग से कंडोम निकाला उनकी चूत पर रखकर सहलाया उससे बहुत तड़पने लगी मैंने तड़पा तड़पाकर पूछा बेटे से चुदना है? वह बोली कोई भी हो अभी बस चोद ले मुझे.. मैंने ज्यादा वेट नहीं करते हुए हल्का का धक्का लगाया और आधा लंड चूत में उतार दिया..

वह दर्द के मारे मुझे नाखून मारने लेकिन अच्छा था वह.. और गांड उठा उठा कर चुदने लगी, चोद दे बेटा.. मुझे कस के.. करने लगी.. मेने भी उस रात कइ बार उन को चोदा, फिर अगले दिन पापा आ गए.


Online porn video at mobile phone


chudai story hindi fontdesi hindi storyfamily sex kahanisex story latest in hindibhai bahansexlatest chudai story hindiland ki pyasgand storybaheno ki chudaikacchi chuthindisexstories comxxx sex story hindihawas ki kahanibete ne gand marakachi chut ki kahanisex stories hindi indiasaas ki chudai hindi kahanimousi ki mast chudaihindi sex story in familylatest hindisex storiesmeri kuwari chootantereasnasex story hindi onlinedesi sex storemaa ko choda blackmail karkedevar ne mujhe chodasexy story with photojija sali chudai storymuslim bhabhi ki gand marinisha ki chutcomputer teacher ki chudaimuslim randi ko chodapapa beti ki chudai ki kahanipapa aur beti ki chudaihindi sexy sotrychachi ki choot maripati ke samne chudaijija sali ki chudai kahani hindihindi font chudai ki kahaniahinde sexy storybhai ne choda raat kosasur ji ne chodasex story incest hindibua chudai storyladki ki jubani chudai ki kahanihindo sexy storyhindi gay porn storieshindi sex story familymausi ko choda storylatest chudai story in hindiwatchman ne chodahindi full sex storychut chtwaibhabhi ko papa ne chodabhai ne gand marawww sex hindi storysex story hindi language mebahoo ki chudaisagi mousi ki chudaisasur se chudai ki kahanidada g ne chodatrain me chudai hindi storybahan ki chut dekhibahan ki chudai in hindi storychoot me khujliaunty ki malishbeti ki chudai ki kahani hindi melong hindi sex storiespussy story in hindihindi sex porn storysmita ki chudaisoni ki chudai ki kahanimaa ko randi banayadadi maa ki chutmausi ki chudai antarvasnamom ko chodne ke tarikemeri suhagrat ki chudai ki kahanibaap beti chudai story in hindipapa ne beti ko choda storychut ka bhosda bana diyachudai kahani ladki ki zubani